वीडियो: जाधव केस पर एक्शन में मोदी सरकार, कुलभूषण की माँ-पत्नी के साथ बदसुलूकी के बाद भारत पाकिस्तान को..

0
569

पाकिस्तान ने सोमवार को दुनिया को दिखाने के लिए कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी से मुलाकात तो करा दी, लेकिन ये मुलाकात भी पाकिस्तान के एक सोचे-समझे प्रायोजित तरीके से हुई। जाधव की मां और पत्नी उन्हें देख तो सकीं लेकिन एक शीशे की दीवार के पार से। यही नहीं मुलाक़ात से पहले जाधव की पत्नी और मां की चूड़ियां, बिंदी और मंगलसूत्र तक उतरवा दिया गया।

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से मिलने गए उनकी मां और पत्नी से किए गए दुर्व्यव्हार को लेकर देश में काफी गुस्सा है। इस मामले पर आज विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी संसद को जानकारी दी। सुषमा ने जाधव की मां और पत्नी से हुए गलत बर्ताव की पूरी जानकारी दी।

जानिये पूरी कहानी..

सुषमा स्वराज के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से इस बात का आश्वासन दिया गया था कि मीडिया को कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां से मिलने नहीं दिया जाएगा। पर ऐसा कुछ नहीं हुआl मीडियाकर्मी न केवल उनके नजदीक तक पहुंच गए, बल्कि उन दोनों को अपशब्द कहे गए। पाकिस्तानी मीडिया ने कुलभूषण की मां और पत्नी के सामने कुलभूषण को भी बुरा-भला कहा।

सुषमा स्वराज ने बताया कि जाधव की मां ने खुद उन्हें बताया कि पाकिस्तानी अफसरों ने सुरक्षा के नाम पर उनके बिंदी, सिंदूर के अलावा मंगलसूत्र भी उतरवा दिए। कुलभूषण की मां ने कहा कि उनके सुहाग के प्रतीक को न उतरवाया जाए लेकिन उनकी एक नहीं सुनी गईl

कुलभूषण की मां जब अपने बेटे से मिलीं तो उन्हें बिना सिंदूर और मंगलसूत्र के देखकर संदेह कुलभूषण को अपने पिता को लेकर संदेह हो गया। उन्होंने पूछा, ‘बाबा कैसे हैं?’ सुषमा ने पाकिस्तान के इस कृत्य की निंदा करते हुए कहा कि इससे ज्यादा बेअदबी कुछ नहीं हो सकती।

सुषमा ने आगे बताया कि कुलभूषण की मां अपने बेटे से मराठी में बातचीत करना चाहती थीं। अधिकारियों ने उन्हें बार-बार बातचीत करने से रोका और एक बार तो उस इंटरकॉम को ही बंद कर दिया, जिसके जरिए शीशे के दीवार के पीछे बैठी मां अपने बेटे से बात कर रही थीं।

यही नहीं, साड़ी पहनने वाली उनकी मां को सलवार-सूट पहनने के लिए दिया गया। मां और पत्नी, दोनों के कपड़े बदलवा दिए गए। सुषमा ने कहा कि अगर भारतीय अफसर वहां होते तो वह मौके पर ही पाक अफसरों की इस हरकत का विरोध करते।

सुषमा ने यह भी कहा कि मुलाकात से पहले जाधव की पत्नी के जूते उतरवाकर चप्पल दिए गए। बाद में मांगने पर भी जूते वापस भी नहीं किए गए। अब आरोप लगाया जा रहा है कि जूते में कैमरा या रिकॉर्डर लगा हुआ था। सुषमा ने सवाल उठाया कि दो बार फ्लाइट बदलकर पाकिस्तान पहुंचीं कुलभूषण की पत्नी के जूतों पर सुरक्षा कर्मचारियों की नजर कैसे नहीं पड़ी।

अगर एयर इंडिया ने मदद कर भी दी तो दुबई से पाकिस्तान की फ्लाइट के दौरान दूसरे देश की एविएशन कंपनी के अधिकारियों ने जूतों में ऐसी कोई खामी क्यों नहीं पकड़ी। सुषमा ने कुलभूषण की मां और पत्नी की ओर से दी गई जानकारी के हवाले से बताया कि कुलभूषण बेहद दबाव में नजर आ रहे थे। वह पूरी तरह स्वस्थ नहीं थे और ऐसा साफ लग रहा था कि वह पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा बताई गई लाइनें दोहरा रहे थे।

देखें वीडियो, सुषमा स्वराज ने सदन में बताया कुलभूषण जाधव की मां-पत्नी के साथ क्या बर्ताव हुआ..

ये भी देखें और शेयर करें:

Loading...

LEAVE A REPLY