Blog Page 2

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी का दावा, भारत के पास है इतने परमाणु हथियारों की ताकत, सदमे में पाक-चीन..

0

पाकिस्तान और चीन की नापाक हरकतों को मुँहतोड़ जवाब देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी अंतर्राष्ट्रीय मंच पर हर मुमकिन कोशिश कर रहे है कि भारत को ओर मजबूत और ताकतवर कैसे बनाया जा सके, और मोदी अपने इस काम में सफल भी होते नज़र आ रहे है. हाल ही में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट ने भारत के दुश्मन देशों को सदमे में डाल दिया है. परमाणु हथियारों को लेकर हुए इस खुलासे ने दुनिया के हर ताकतवर देश को भारत की पॉवर दिखा दी है.

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की ये रिपोर्ट है चीन-पाक के लिए मौत का फरमान..

खबर अनुसार बता दें कि रिपोर्ट के मुताबिक़ हथियारों के मामले में बेहद गुप्त रूप से भारत यूके और फ्रांस से भी आगे निकल गया है. भारत प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय सीमा से जुड़े मुद्दों में इन देशों पर हावी हो सकता है. हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के बेल्फर सेंटर की Indian Nuclear Exceptionalism रिपोर्ट के मुताबिक़ भारत के पास 2600 परमाणु बम बनाने के लिए आवश्यक सामग्री मौजूद है. इस सिलसिले में वर्तमान में भारत तीसरे नंबर है, केवल अमेरिका और रूस ही उससे आगे हैं.

गौरतलब है कि इस रिपोर्ट के अनुसार पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत की ताकत किस तरह से बढ़ी है और भारत जल्द ही एलीट न्युक्लियर ग्रुप में शामिल हो जाएगा क्योंकि भारत सक्रिय रूप से उन्हें विभिन्न सामग्रियों की आपूर्ति कर सकता है.

सरकार ने भारतीय नौसेना को अत्याधुनिक बनाने के लिए छह और परमाणु पनडुब्बी बनाने का महत्वाकांक्षी मिशन शुरू किया है, ऐसा करके वो फ्रांस और ब्रिटेन की नौसेना से भी ज्यादा ताकतवर हो जाएगा.

बता दें कि चीन और पाकिस्तान जानते हैं कि भारत जल्द ही आर्थिक रूप से और परमाणु ताकत के मामले में एक वैश्विक शक्ति बनने जा रहा है. यदि मोदी 2019 में फिर से जीत कर सत्ता पर काबिज हो जाते हैं, तो चीन के पास कोई चारा नहीं रह जाएगा कि वो पाकिस्तान का साथ छोड़कर भारत के रास्ते का काँटा बनना बंद करदे, इसी में उसकी खैर होगी.

बताते चलें कि भारत की बढ़ती ताकत चीन की चिंता बढ़ा रही है क्योंकि भारत सीधे चीन की तिब्बत और अरुणाचल प्रदेश नीति पर दबाव डाल सकता है. कुछ ही वर्षों में भारत की ताकत इतनी अधिक हो जायेगी कि चीन भारत के किसी भी आतंरिक मामले में हस्तक्षेप करने की हिम्मत नहीं कर पायेगा.

पूरे एशिया में भारत से टक्कर लेने वाला कोई नहीं होगा क्योंकि मोदी जी के कारण भारत विकासशील देशों की सूची से बाहर निकल कर विकसित देश के रूप में खुद को स्थापित कर लेगा.

ये भी देखें और शेयर करें: 

2019 को लेकर आई बड़ी भविष्यवाणी, होगा वो, जिसकी कईयों को नहीं है उम्मीद..

0

गुजरात और हिमाचल के चुनावों के बाद देश में राजनीतिक फिजायें बदल चुकी हैंl दोनों ही राज्यों में कांग्रेस को हर मिली और इन चुनावों के बाद बीजेपी की पूरे 19 राज्यों में सरकार हो गई हैl

क्या रही भविष्यवाणी..

इसी बीच ज्योतिषों ने जो भविष्यवाणी की है वो जान आप भी दंग रह जायेंगेl ये भविष्यवाणी 2019 के विधानसभा चुनाव को लेकर हैl ज्योतिषियों के मुताबिक, 2019 में भी भाजपा को बड़ी जीत मिलेगी लेकिन उसे 2014 जैसा बहुमत मिलेगा या नहीं, यह अभी तय नहींl

भविष्यवाणी कहती है कि भाजपा को 2019 में 230 के करीब सीटें मिल सकती हैंl यह भी कहा गया कि 2020 के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सेहत को लेकर कुछ समस्याएं पैदा हो सकती हैं लेकिन भाजपा 2019 में एक बार फिर सरकार बनाने की स्थिति में तो जरूर आ जाएगी।

अंक गणित के विशेषज्ञ कुमार गणेश का मानना है कि 2018 का साल कांग्रेस के लिए राजनीतिक तौर पर नुक्सान वाला साल है। पार्टी आने वाले विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकेगीl कुमार गणेश के अनुसार कांग्रेस के 2019 में थोड़े हालात शायद सुधर जायेंगेl इसके अलावा ये भी कहा गया कि 2018 के दौरान कांग्रेस के हाथ से कर्नाटक भी निकल सकता है।

इसके अलावा पूर्वोत्तर में भी पार्टी को सीटों का नुक्सान होगा। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भी कांग्रेस को उम्मीद के मुताबिक नतीजे नहीं मिलेंगे।

2019 में बिगड़ सकता है पीएम मोदी का स्वास्थ्य

बैतूल के ज्योतिषी हिरेंद्र शुक्ला ने भी 2019 के चुनाव के लिए भाजपा के पक्ष में भविष्यवाणी की है। हालांकि उनका भी यह मानना है कि भाजपा की सीटों की संख्या आने वाले लोकसभा चुनावों के दौरान कम हो जाएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली के आधार पर भविष्यवाणी करते हुए शुक्ला ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसी स्थिति में यह भी हो सकता है कि देश के लिए नेतृत्व कोई और व्यक्ति करे।

राज्‍यसभा सांसद अमर सिंह ने क्षत्र‍िय महा सम्मेलन में पीएम मोदी और सीएम योगी की जमकर प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि यूपी में अब भोगी की नहीं बल्कि योगी की सरकार है। इस दौरान अमर सिंह ने 2019 लोकसभा चुनाव पर भविष्यवाणी भी कर डाली और कहा कि नरेंद्र मोदी न कभी चुनाव हारे हैं और ना ही कभी हारेंगे।

अमर सिंह ने कहा कि देश में मोदी और प्रदेश में योगी है, अब अयोध्या में राम मंदिर बनेगा। उन्होंने मोदी-योगी की शान में जमकर कसीदे भी पढ़े। उन्‍होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर योगी सरकार का बचाव करते हुए कहा कि योगी काठ के तख़्त पर सोते हैं और उन्हें एसी की जरुरत नहीं पड़ती। वे फक्कड़ हैं, और ऐसे व्यक्ति के बारे में कुछ भी कहना उचित नहीं होगा।

बता दें कि इससे पहले भी अमर स‍िंह मोदी की कई बार तारीफ कर चुके हैं। गोरखपुर में उन्होंने मोदी की तुलना राम और बुद्ध से की थी।

ये भी देखें और शेयर करें :

भाजपा सरकार का मनमोहन सिंह और हामिद अंसारी पर जबरदस्त वार, पीएम को आया गुस्सा..

0

गुजरात चुनावों के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और पूर्व उपराष्‍ट्रपति हामिद अंसारी के बारे में दिए गए बयान पर सरकार की तरफ से सफाई देते हुए वित्‍त मंत्री और सदन के नेता अरुण जेटली ने राज्‍यसभा में कहा कि पीएम मोदी ने अपने भाषणों में कांग्रेस के इन नेताओं की प्रतिबद्धता पर कोई सवाल नहीं उठाए.

उनका ऐसा कोई इरादा भी नहीं था. देश के लिए मनमोहन सिंह की प्रतिबद्धता पर कोई सवाल नहीं उठाया गया. इस तरह की कोई भी धारणा भ्रामक है. इसके साथ ही अरुण जेटली ने कहा कि हम कांग्रेस के इन नेताओं का बहुत सम्‍मान करते हैं और उनकी राष्‍ट्र के लिए प्रतिबद्धता की कद्र करते हैं.

अरुण जेटली के जवाब के बाद विपक्ष की तरफ से कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि गतिरोध का विषय बने इस मुद्दे पर नेता सदन के बयान के बाद यह मामला समाप्‍त हो गया है. इसके साथ ही आजाद ने कहा कि चुनावों के दौरान पीएम मोदी के सम्‍मान के खिलाफ यदि किसी ने कोई टिप्‍पणी की है तो हम उससे खुद को पूरी तरह अलग करते हैं. इसके साथ ही यह भी चाहते हैं कि भविष्‍य में ऐसी कोई घटना नहीं हो.

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कथित बयान को लेकर शीतकालीन सत्र के प्रारंभ से जारी गतिरोध आज सदन के नेता अरुण जेटली के बयान के बाद दूर हो गया. दरअसल राज्यसभा में बुधवार को भोजनावकाश के बाद सदन के नेता अरुण जेटली ने कहा कि विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान का मुद्दा उठाया था.

उन्होंने कहा कि चुनाव में सभी पक्षों की ओर से तमाम बयान दिये गये. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी की देश के लिए प्रतिबद्धता को लेकर कोई सवाल नहीं उठा सकता है. जेटली और आजाद के बयानों के बाद सदन में सामान्य ढंग से कामकाज चलने लगा.

उल्लेखनीय है कि शीतकालीन सत्र शुरू होने के साथ ही कांग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के खिलाफ दिए गए बयान के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी से माफी मांगने और स्पष्टीकरण देने की मांग करते हुए भारी हंगामा किया था जिसके कारण सदन की कार्यवाही बार-बार बाधित हो रही थी.

दरअसल संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत से ही कांग्रेस पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर टिप्पणी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी की मांग करते हुए राज्यसभा की कार्यवाही बाधित कर रही है। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने इसी महीने गुजरात में एक चुनावी रैली में कहा था कि कांग्रेस के नेताओं ने पाकिस्तान के पूर्व मंत्री और डिप्लोमैट्स के साथ ‘गुप्त बैठक’ की थी ताकि बीजेपी गुजरात विधानसभा का चुनाव हार जाए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि ‘3 घंटे की गुप्त बैठक’ में पाकिस्तान के उच्चायुक्त, वहां के पूर्व विदेश मंत्री, भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी भी शामिल हुए थे। पीएम के इस बयान पर मनमोहन सिंह ने तीखी आलोचना की थी। सिंह ने कहा था कि राजनीतिक फायदे के लिए मोदी झूठ फैला रहे हैं।

ये भी देखे और शेयर करें:

बड़ी खबर: चीन ने दी खुश-खबरी, प्रधानमंत्री मोदी को घोषित कर दिया…

0

आज पीएम मोदी का राष्ट्रीय ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बोलबाला हैl सभी भारतीयों को ये जानकर ख़ुशी होगी कि चीनी मीडिया ने भी भारतीय प्रधानमंत्री का लोहा माना है। ‘शिन्हुआ’ चीन की एक समाचार एजेंसी है जिसने 2017 को राजनीति में ‘ब्रांड मोदी’ घोषित किया है।

एजेंसी ने हाल ही में अपने एक प्रकाशित हुए लेख में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सराहना की और कहा भाजपा को वास्तविकता की जांच करने की भी जरुरत है। लेख ने ईयर एंडर टाइटल के साथ लिखा है, ‘2017 में भारत की सत्तारूढ़ भाजपा के लिए जादू की तरह काम करती मोदी लहरl’

भारत में मोदी लहर का उल्लेख करते प्रकाशित लेख में लिखा गया कि इस साल जितने भी राज्यों में चुनाव हुए, उन सभी में मोदी लहर दौड़ गई और मोदी ने सभी जगह मास्टरस्ट्रोक से अपनी छाप छोड़ी है। इसके अलावा राज्यसभा में मोदी सरकार की ताकत के बारे में भी बताया गयाl

लेख में बताया गया कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के जीतते ही मोदी लहर की शुरुआत हो गयी थीl 17 राज्यों के चुनाव में 9 राज्यों में जीत के पीछे मोदी का हाथ है। लेख में आगे कहा गया है

कि मोदी को अपनी नीतियों के कारण विपक्षी पार्टी कांग्रेस की आलोचनाओं का भी काफी शिकार होना पड़ा इसके बावजूद भारत में लगातार मोदी मैजिक कायम रहा। यहाँ तक कि नोटबंदी के बाद भी उत्तर प्रदेश में भाजपा की बड़ी जीत उनकी लोकप्रियता को दर्शाती है।

लेख में पीएम मोदी के अलावा हालिया चुनावों में अमित शाह की भूमिका का भी उल्लेख किया गया है। अब इस सबके बाद तो ये साफ़ है कि चीन भारत की इस जीत की तरफ बड़ी ही गहराई से नजर रख रहा है।

100 साल बाद महासंयोग – जल्द मालामाल हो जायेंगी ये 6 राशियां, लगेगी छपर फाड़ के लॉटरी…

0

जल्द मालामाल हो जायेंगी ये राशियाँ, जानिये कौन-कौन सी हैं ये राशियाँ…

परिवर्तन ही संसार का नियम हैं और हम सभी के जीवन में कई प्रकार के परिवर्तन आते रहते हैं. कभी दुःख की काली छाया हम सभी के जीवन पर आ जाती हैं, जिसमें मनुष्य के अनेको प्रकार के संकटों का सामना करना पड़ता हैं तो कभी सुख की ठंडी फुआरे भी हम सभी के जीवन पर पडती हैं. तब ऐसा लगता हैं जैसे सारा संसार सुख की दुधिया रौशनी में नहाया हुआ हैं.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मानव जीवन में आने वाले सुख और दुःख का सीधा संबंध ग्रहों और नक्षत्रो से होता हैं, जो निंरतर अपना स्थान बदलते रहते हैं. जिनका प्रभाव मानव जीवन पर प्रत्यक्ष रूप से देखा जा सकता हैं. ग्रहों के इस परिवर्तन सम्बंधी आज हम आपके लिए कुछ ऐसी ही जानकरी लेकर आये हैं, जिसको जानकर आपकी आंखे खुली की खुली रह जाएगी.

बता दें कि एक बड़ी ज्योतिषीय घटना घटी हैं जिसमें सौ सालो बाद एक ऐसा महासंयोग बना रहा हैं जिसमे पांच राशियो के जातको की जिन्दगी बदल जाएगी. इस पांच राशियो के जातको पर ना केवल लक्ष्मी की अपार कृपा बरसेगी बल्कि इनके मान सम्मान और वैभव में भी अविश्वसनीय वृद्धि हो जाएगी.

आइये जानते हैं वह कौन सी राशि हैं ?

मेष राशि : इस महासंयोग से मेष राशि के जातको को जैसे सबसे बड़ा फायदा होगा. रुके हुए सभी काम पुरे होगे वही मेहनत से किये गये किसी कार्य में फल अपेक्षा से भी अधिक प्राप्त होगा.आने वाले नये साल में माता लक्ष्मी मेष राशि के जातको पर ऐसी कृपा बरसायेगी, यदि मेष राशि के जातक किसी का दिल ना दुखाये तो माँ लक्ष्मी की यह कृपा पुरे वर्ष बनी रहेगी.

कन्या राशि : इस राशि के जातको पर कुबेर की कृपा दृष्टि जाने वाली हैं, परिणाम स्वरूप कोई गडा हुआ धन मिल सकता हैं या कही से अचानक धन प्राप्त होने की सम्भावना बन रही हैं. वही आय ने नये साधन भी मिलने के पुरे आसार हैं. ध्यान ये रखना हैं की क्रोध के वशीभूत होकर कोई निर्णय ना ले ये अहितकर रहेगा.

अधिक जानकारी के लिए देखें नीचे दी गई वीडियो. अगर किसी वजह से वीडियो न चले तो वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें !

पवित्र केदारनाथ में घटी हैरान करने वाली ये घटना, देखें शिव का लाइव चमत्कार…

0

आज हम आपको केदारनाथ में घटित चमत्कार के बारे में बताने जा रहे है,शायद ही आपने इसके बारे में आज से पहले कभी सुना होगा नही सुना है तो आज जान लीजिये ! केदारनाथ देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे उच्च स्थान पर आता है. केदारनाथ मंदिर तीन तरफ से पहाड़ों से घिरा हुआ है. केदारनाथ मंदिर करीब 22,000 फीट उचाई पर स्थित है. केदारनाथ के पास पांच नदियों का संगम भी है.

आपको बता दे कि केदारनाथ उत्तराखंड का सबसे विशाल शिव मंदिर है, जो कटवा पत्थरों के विशाल शिला खण्डों को जोड़कर बनाया गया है. केदारनाथ की यात्रा करने हर वर्ष लाखों श्रद्धालु आते है.

इस मंदिर के कपाट 6 महीने तक ही खुलते है. मई से अक्टूबर तक इस मंदिर के कपाट खुले रहते है. इस समय केदारनाथ की यात्रा नही चल रही है क्योंकि इस समय वहां बर्फ होती है.

केदारनाथ की यात्रा में बारिश के कारण यात्रियों को भरी मुश्किलों का सामना कर पड़ा रहा है. इस मुश्किल में एक ऐसा चमत्कार सामने आया है जिसे देखकर लोग हैरान है. श्रद्धालुओं का कहना है कि उन्होंने ऐसा चमत्कार आजतक कभी नहीं देखा है.

इस चमत्कार को देखकर सभी व्याकुल हो गये है कि आखिर ये कैसे हो गया.आपको हम बता दें कि केदार घाटी में ब्रह्म कमल इस बार पूरी तरह से खिले हुए हैं, जो कि यहाँ दर्शन करने वाले आये श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केन्द्र बने हुए हैं|

शास्त्रानुसार ब्रह्म कमल एक ऐसा पौधा है जिसकी उत्पत्ति स्वयं ब्रह्मा जी द्वारा हुई है और ब्रह्मा जी के नाम से ही इसका नाम ब्रह्म कमल पड़ा है। तो आइये नीचें दी गई विडियो को देखकर जाने कि केदारनाथ में ऐसी कौनसी घटना घट गयी जिसने सबको हैरान कर दिया है.ये विडियो इस समय सोशल मीडिया पर बहुत वायरल चल रही है और कई वेबसाइट इस विडियो को डाल चुके हैं !

SP नेता नरेश अग्रवाल ने पाकिस्तान को लेकर दिया ऐसा बयान कि भड़क गए रोहित सरदाना और फिर क्या जवाब दिया देखिये..

0

इस बार नरेश अग्रवाल ने कुलभूषण जाधव पर जो बयान दिया है वह इस तरफ इशारा कर रहा है कि जाधव के साथ पाकिस्‍तान जो भी कर रहा है, वो सही है l साथ ही यह हैरानी भी जताई कि मीडिया सिर्फ जाधव की ही क्‍यों बात कर रही है, जबकि पाकिस्‍तान की जेल में कई और भारतीय भी बंद हैं l नरेश अग्रवाल के इस बयान को लेकर लोगों ने नाराजगी जताई है l इस बयान पर वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना ने भी ट्वीट कर उन पर निशाना साधा है l

रोहित सरदाना ने अपने ट्वीट में नरेश अग्रवाल पर जोरदार प्रहार करते हुए लिखा है कि “पाकिस्तान को ICJ में अच्छे वक़ील की ज़रूरत है l नरेश अग्रवाल LLB भी किए हैं, और मौसम के हिसाब से बदलने में भी मास्टर हैं

बुधवार को नरेश अग्रवाल ने कहा है कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव को आतंकी मानता है l इसी लिए उसने उसके घर वालों के साथ कड़ा रुख अपनाया l भारत में भी आतंकियों के साथ ऐसा ही रवैया अपनाया जाना चाहिए l आपको बता दें कि सोमवार को कुलभूषण के परिवार ने पाकिस्तान जाकर मुलाक़ात की l

इस मुलाक़ात से पहले पाकिस्तान में उनकी मां और पत्नी की बिंदी, चूड़ियां और मंगलसूत्र उतरवा लिए गए इतना ही नहीं, उनके कपड़े भी बदलवाए गए थे l पाकिस्तान ने कुलभूषण की पत्नी के जूते भी वापस नहीं किए गए थे l रोहित सरदाना के इस ट्वीट पर यूजर्स ने भी नरेश अग्रवाल के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है l

नरेश अग्रवाल के इस बयान को लेकर सदन में भी काफी हंगामा हुआ l इसके बाद नरेश अग्रवाल ने अपने सुर बदलते हुए अपने बयान को लेकर सफाई भी दी है l देश में पाकिस्तान कि इस हरकत को लेकर काफी आलोचना हो रही है l

खबर के मुताबिक जहाँ कुलभूषण जाधव और उनके माँ और पत्नी की पाकिस्तान द्वारा की गयी बेज़्ज़ती से पूरे भारत में गुस्से का माहौल है. तो ऐसे वक़्त में समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल ने भारत की पीठ में छुरा घोपने वाला बयान दे दिया है.

सपा के राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल ने जाधव के साथ पाकिस्तान के रवैय्ये और मक्कारी को सही बताया है. नरेश अग्रवाल का मानना है कि जाधव के साथ पाकिस्तान जो क्रूरता बर्बरता और उनके परिवार के साथ बेज़्ज़ती, ज़लालत वाली हरकत कर रहा है वो सब सही है.

नरेश अग्रवाल ने कहा है, ‘अगर उन्होंने (पाकिस्तान) कुलभूषण जाधव को आंतकवादी माना है, तो वो उस हिसाब से ही व्यवहार करेंगे.’ नरेश अग्रवाल ने ये भी कहा, ‘हमारे देश में भी आतंकवादियों के साथ ऐसा ही कड़ा व्यवहार करना चाहिए. पाकिस्तान की जेलों में सैकड़ों भारतीय बंद हैं, ऐसे में उनकी भी बात होनी चाहिए, सिर्फ जाधव की नहीं.’. आपको बता दें कांग्रेस राज में हमारे जेलों में पल रहे आतंकवादियों को बिरयानी खिलाई जाती थी और AC वाले कमरों में रखा जाता था.

ये भी देखें और शेयर करें:

मोदी की सबसे बड़ी योजना: अपनी पत्नी के नाम पर खुलवाइए अकांउट, खाते में सीधे आएंगे 50 लाख रुपए…

0

यदि आप भी अपनी फ्यूचर प्लानिंग को लेकर लगातार सोचते रहते हैं तो यह खबर आपके काम की साबित होगी। आजकल बढ़ती धोखाधड़ी के मामलों में हर कोई सुरक्षित निवेश करना चाहता है।
ऐसे में कई विकल्प आपके लिए काम के साबित हो सकते हैं।

यदि आपकी पत्नी हाउसवाइफ हैं या नौकरी पेशा, दोनों ही स्थिति में आप अपनी वाइफ के नाम से पब्लिक प्राविडेंट फंड (PPF) अकाउंट खुलवा सकते हैं। पीपीएफ अकाउंट को सबसे सुरक्षित निवेश माना जाता है और इस पर मिलने वाला रिटर्न गारेंटीड होता है। ऐसे में यदि आपका निवेश का मन बन रहा है तो यह आपके लिए शानदार विकल्प साबित होगा।

 

आपकी वाइफ के पीपीएफ अकाउंट में अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक जमा किए जा सकते हैं। यदि आप इतना ही फंड हर साल अपनी वाइफ के नाम से पीपीएफ अकाउंट में जमा करते हैं तो 15 साल के बाद इसके मैच्योर होने पर आपको करीब 50 लाख रुपए का फंड मिलेगा। उस समय यह फंड आपके बहुत काम आएगा। यानी जरूरत पड़ने पर आप अपनी वाइफ से 50 लाख रुपए तक की सपोर्ट ले सकते हैं।

फिलहाल पीपीएफ अकाउंट पर सालाना 7.8 प्रतिशत रिटर्न मिल रहा है। इस हिसाब से यदि PPF अकाउंट में आप 15 साल तक सालाना 1.5 लाख रुपए जमा कराते हैं तो इस इंटरेस्ट रेट के हिसाब से आपका कुल फंड करीब 43 लाख रुपए हो जाएगा। सरकार की तरफ से पीपीएफ स्‍कीम पर इंटरेस्‍ट रेट की हर तीन माह पर समीक्षा की जाती है।

आने वाले समय में पीपीएफ की ब्याज दरों पर कटौती भी हो सकती है और इसमें इजाफा भी हो सकता है। ऐसे में यदि ब्याज दरों में इजाफा होता है तो आप पीपीएफ अकाउंट में 15 साल तक निवेश कर करीब 50 लाख रुपए के मालिक बन सकते हैं। पीपीएफ अकाउंट का नियम है कि इसमें सालाना 1.5 लाख रुपए से ज्यादा जमा नहीं किया जा सकता।

पीपीएफ अकाउंट की दूसरी शर्त यह है कि आप ज्वाइंट अकाउंट में इस खाते को नहीं खोल सकते। इसमें आप अपने, वाइफ के नाम पर या बच्चों के नाम पर अकाउंट खोल सकते हैं। इस खाते को चालू रखने के लिए आप न्‍यूनतम 500 रुपए सालाना से लेकर अधि‍कतम डेढ़ लाख रुपए सालाना तक जमा कर सकते हैं। नाबालि‍ग के अकाउंट में न्‍यूनतम 100 रुपए सालान भी जमा किए जा सकते हैं।

यदि आपने इस खाते में चालू वित्तीय वर्ष में न्यूनतम कंट्रीब्यूशन नहीं किया है तो आपको हर साल के हिसाब से 50 रुपए का जुर्माना देना होगा। पीपीएफ अकाउंट में कंट्रीब्यूशन का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इसमें जमा की गई रकम पर मिलने वाला ब्याज टैक्स फ्री होता है। यानी आपको अकाउंट मैच्योर होने पर जो राशि मिलती है उस पर आपको टैक्स नहीं देना होगा।

अखिलेश के चहेते इस सांसद ने नीचतता की करी हद पार, कुलभूषण जाधव को लेकर कही घिनौनी बात, भड़क उठा देश..

0

किसी ने एकदम सही कहा है, जब देश के अंदर ही दुश्मन गद्दार, देशद्रोही बैठे हो तो बाहर से दुश्मन लाने की क्या ज़रूरत है. पिछले साल भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक पर दिल्ली सीएम केजरीवाल ने सबूत मांगे थे, जिसका पाकिस्तान मीडिया ने जमकर इस्तेमाल किया था और भारत का मज़ाक बनाया था.

ऐसा ही अब एक बार फिर कुलभूषण जाधव के मामले में हो रहा है, सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने बेहूदा बयान देकर देशभर में विवाद खड़ा कर दिया है और पाकिस्तान की मदद कर दी है.

सपा संसद ने कुलभूषण जाधव को लेकर दिया बेहूदा बयान

अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक जहाँ कुलभूषण जाधव और उनके माँ और पत्नी की पाकिस्तान द्वारा की गयी बेज़्ज़ती से पूरे भारत में गुस्से का माहौल है. तो ऐसे वक़्त में समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल ने भारत की पीठ में छुरा घोपने वाला बयान दे दिया है.

सपा के राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल ने जाधव के साथ पाकिस्तान के रवैय्ये और मक्कारी को सही बताया है. नरेश अग्रवाल का मानना है कि जाधव के साथ पाकिस्तान जो क्रूरता बर्बरता और उनके परिवार के साथ बेज़्ज़ती, ज़लालत वाली हरकत कर रहा है वो सब सही है.

नरेश अग्रवाल ने कहा है, ‘अगर उन्होंने (पाकिस्तान) कुलभूषण जाधव को आंतकवादी माना है, तो वो उस हिसाब से ही व्यवहार करेंगे.’ नरेश अग्रवाल ने ये भी कहा, ‘हमारे देश में भी आतंकवादियों के साथ ऐसा ही कड़ा व्यवहार करना चाहिए. पाकिस्तान की जेलों में सैकड़ों भारतीय बंद हैं, ऐसे में उनकी भी बात होनी चाहिए, सिर्फ जाधव की नहीं.’. आपको बता दें कांग्रेस राज में हमारे जेलों में पल रहे आतंकवादियों को बिरयानी खिलाई जाती थी और AC वाले कमरों में रखा जाता था.

पाकिस्तान के प्रवक्ता मौजूद हैं देश में

हमारे देश में बोलने का अधिकार है तो मतलब नेता लोग कुछ भी बोल देंगे. अब नरेश अग्रवाल के इस बयान पर पाकिस्तान में खबरें चलेंगी. यहाँ भारत पाकिस्तान को नंगा करने पर तुला हुआ है और हमारे देश के लोग पाकिस्तान का ही बचाव कर रहे हैं. ऐसे बातें आकर रहे हैं जैसे ये पाकिस्तान के प्रवक्ता हो.

सांसदों विधायकों के वेतन वृद्धि की बड़े जोरशोर से मांग उठा रहे हैं नरेश

आपको बता दें ये वही नरेश अग्रवाल हैं जो जबसे संसद शुरू हुई है तब से सांसदों और विधायकों के वेतन में वृद्धि नहीं होने का मुद्दा उठा रहे हैं और उनके वेतन एवं भत्तों को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुरूप करने की मांग कर रहे हैं.

आखिर हम पूछते हैं कि किस बात के लिए इनके वेतन बढ़ाये जाएँ, ऐसा कौन सा तीर मार रहे हैं ये रोज़, जो वेतन बढ़वा रहे हैं? क्या इन्हे पाकिस्तान के समर्थन देने के लिए वेतन बढ़ाना चाहिए? ये वहीँ नरेश अग्रवाल हैं जिन्होंने भगवान राम और माता सीता को शराब की बोतल के समान बोलकर भरी संसद में अपमानित किया था.

देश भर में भड़का गुस्सा

तो वहीँ अब बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने नरेश अग्रवाल के बयान को आधार बनाते हुए यूपीए को घेरा है. जीवीएल ने ट्वीट कर लिखा कि ये बयान कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार द्वारा पाकिस्तान में राष्ट्रीय हित के विश्वासघात का प्रतीक है.न्होंने कहा कि ये पाकिस्तान की तरफ हैं, जो उनके साथ खाना खाते हैं और शराब पीते हैं और भारतीय सेना को गालियां देते हैं, सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल करते हैं और कुलभूषण जाधव को आतंकवादी कहते हैं.

साथ ही बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने भी अग्रवाल के बयान को बेहद हैरान करने वाला बताया है. उन्होंन कहा है कि नरेश अग्रवाल का बयान कोई भी देशभक्त पसंद नहीं कर सकता. गिरिराज ने कहा, ‘ऐसे लोगों की हमदर्दी रोहिंग्या मुसलमानों के लिए, सेना पर पत्थर फेंकने वालों के लिए तो होती है लेकिन कुलभूषण यादव के परिवार के लिए नहीं होती. यह शर्मसार करने वाला बयान है.’

बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने नरेश अग्रवाल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने कहा है कि संसदीय कार्यमंत्री को सदन में अग्रवाल के खिलाफ प्रस्ताव लाना चाहिए और एक कमेटी बनाकर उनकी सदस्यता की समीक्षा करना चाहिए.

ये भी है और शेयर करें:

दिल्ली मेट्रो के अन्दर CISF जवानों को भद्दी गालियाँ देता रहा युवक, सोशल मीडिया पर हो रही है गिरफ्तारी की मांग…

0

मेट्रो ट्रेन का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक लड़का सीआईएसएफ जवानों को गंदी-गंदी गालियां देता नजर आ रहा है। वहीं दूसरी ओर सुरक्षा जवान लड़के की हरकतों और बदजुबानी को नजरअंदाज करते देखे जा सकते हैं। इस वीडियो से अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत में वीर जवानों का सम्मान किस तरह से किया जा रहा है.

युवक किसी बात पर सनक गया था और उसनें दर्जनों CISF जवानों को गालियाँ देनी शुरू कर दीं, लोग उसे रोकते रहते लेकिन युवक किसी की बात मानने को तैयार नहीं था, युवक के अन्दर तमीज नाम की चीज नहीं थी इसलिए जवानों के समझाने के बावजूद भी वह नहीं रुका.

अब हमारे CISF जवानों की महानता देखिये, अगर एक भी जवान चाहता तो युवक का मुंह तोड़ सकता था लेकिन उन्होंने युवक को नासमझ समझते हुए उसे कुछ नहीं कहा, लेकिन अब सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो गया है और लोग युवक के खिलाफ कार्यवाही की मांग कर रहे हैं.

अलोक तिवारी ने यह वीडियो पोस्ट करते हुए कहा है – दिल्ली मेट्रो में CISF जवानों के साथ आम पब्लिक कैसे बर्ताव करती है, नरेन्द्र मोदी जी कहते हैं कि जहाँ जवान दिखाई दें उनके लिए ताली बजाओ लेकिन यह महाशय तो ताली के बदले गाली दे रहे हैं. ऐसे लोग समाज के नाम पर कलंक हैं, इनके खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए.

जल्द शुरू होगा दिल्ली मेट्रो का यह नया कॉरिडोर, समय बचेगा और किराया कम लगेगा-

दिल्ली मेट्रो के कालकाजी मंदिर-बॉटनिकल गार्डन कॉरिडोर की शुरुआत जल्द होगी. इससे नोएडा और दक्षिण दिल्ली के बीच की यात्रा का समय कम हो जाएगा. यात्रा में समय की बचत के साथ-साथ किराया भी कम लगेगा.

अधिकारियों ने गुरुवार को जानकारी दी कि मेट्रो के तीसरे चरण के तहत बनाई गई इस 12.64 किलोमीटर लंबी लाइन पर परीक्षण और जांच सफलतापूर्वक पूरी कर ली गई है तथा यह मेट्रो रेल के सुरक्षा आयुक्त के अनिवार्य निरीक्षण के लिए तैयार है.

फिलहाल यात्रियों को कालकाजी से केंद्रीय सचिवालय जाना पड़ता है. वहां से मंडी हाउस स्टेशन पहुंचकर दोबारा मेट्रो बदलकर यात्री बॉटनिकल गार्डन पहुंचते हैं. इस रूट पर कालकाजी से बॉटनिकल गार्डन के बीच की दूरी 27.28 किलोमीटर है.

किराया बढ़ने के बाद अब इस रूट से आवागमन पर रोज 100 रुपये खर्च करने पड़ते हैं. जबकि मेजेंटा लाइन के 12.64 किलोमीटर लंबे कॉरिडोर पर मेट्रो परिचालन शुरू होने से यात्री कालकाजी मंदिर से सीधे नोएडा के बॉटनिकल गार्डन पहुंच सकेंगे. दूरी कम होने से यात्रियों को किराया भी कम देना होगा.

CISF

दिल्ली मेट्रो में CISF जवानों के साथ आम पब्लिक कैसे बर्ताव करती है मोदी जी कहते हैं जहां जवान दिखाई दें उनके लिए ताली बजाओ लेकिन यह महाशय तो ताली के बदले गाली दे रहे हैं

Posted by AAP is No More for Aam Aadmi on 26 ଡିସେମ୍ବର 2017

कालकाजी मंदिर कश्मीरी गेट-फरीदाबाद मेट्रो लाइन का स्टेशन भी है. मेजेंटा लाइन कॉरिडोर शुरू होने से यह इंटरचेंज स्टेशन भी बन जाएगा. इससे जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम व लाजपत नगर मेट्रो स्टेशन से नोएडा जाना आसान हो जाएगा. और किराये में बचत भी होगी.
(इनपुट एजेंसियों से भी)